- Advertisement -
भूगोलभारत के प्रमुख दर्रे | bharat ke pramukh Darre

भारत के प्रमुख दर्रे | bharat ke pramukh Darre

भारत के प्रमुख दर्रे मैप के साथ और trick से याद करने का सही तरीका आज हम इस आर्टिकल में जानेगे। भारत के प्रमुख दर्रे उनकी विशेषताएँ ,और उनके बारे में प्रमुख जानकारी जो आपकी परीक्षा की दृष्टि से महत्त्वपूर्ण है तो आइये जानते है।

भारत के दर्रे

  • काराकोरम दर्रा
  • जोजिला दर्रा
  • पीरपंजाल दर्रा
  • बनिहाल दर्रा
  • शिपकी दर्रा
  • बाड़ालाचा दर्रा
  • माना दर्रा
  • नीति दर्रा
  • नाथूला दर्रा
  • जेलेप्ला दर्रा
  • बोम्डिला दर्रा
  • यांग्याप दर्रा
  • दिफू दर्रा
  • पांग साड दर्रा
  • तुजु दर्रा

भारत के दर्रे विशेष जानकारी

काराकोरम दर्रा

काराकोरम दर्रा जम्मू-कश्मीर राज्य के लद्दाख क्षेत्र में काराकोरम श्रेणियों के मध्य है। यह 5654 मीटर ऊँचा है। यह चीन को एक सड़क भी बनाई गई है। प्राचीन काल में इस दर्रे से यारकंद भी जाते थे।

जोजिला दर्रा

जम्मू कश्मीर राज्य के जास्कर श्रेणी में यह दर्रा स्थित है। इसकी ऊंचाई 3529 मीटर है , श्रीनगर से लेह जाने का मार्ग इसी दर्रे से गुजरता है।

पीरपंजाल दर्रा

यह जम्मू -कश्मीर राज्य के दक्षिण -पश्चिम में स्थित है। यह पीर पंजाल के मध्य 3494 मीटर ऊँचा है।

बनिहाल दर्रा

यह जम्मू- कश्मीर राज्य के दक्षिण -पश्चिम में पीरपंजाल श्रेणियों में स्थित है। इसकी ऊंचाई 2832 मीटर है। जम्मू से श्रीनगर का मार्ग इसी दर्रे से गुजरता है

शिपकी दर्रा

यह दर्रा हिमाचल प्रदेश के जास्कर जास्कर श्रेणी ,इ स्थित है। इस दर्रे से होकर शिमला से तिब्बत जाने का मार्ग है।

रोहतांग दर्रा

हिमाचल प्रदेश में पीरपंजाल श्रेणियों में यह दर्रा स्थित है। इसकी ऊंचाई 4631 मीटर है।

बाड़ालाचा दर्रा

बाड़ालाचा दर्रा हिमाचल प्रदेश में जास्कर श्रेणी के मध्य स्थित है। इसकी ऊंचाई 4512 मीटर है। मंडी से लेह जाने वाले मार्ग को इसी दर्रे से गुजरना पड़ता है।

माना दर्रा

यह उत्तराखंड के कुमायु श्रेणियों में स्थित है। इस दर्रे से होकर भारतीय तीर्थयात्री मानसरोवर झील और कैलाश घाटी के दर्शन के लिए जाते है।

नीति दर्रा

यह दर्रा भी उत्तरखंड कुमायु प्रदेश में स्थित है। यह 5389 मीटर ऊँचा है। यहाँ से भी मानसरोवर झील और कैलाश घाटी जाने का मार्ग खुलता है।

नाथुला दर्रा

सिक्किम राज्य में डोक्या श्रेणी में नाथुला दर्रा स्थित है। यह भारत-चीन युध्य में अपने सामरिक महत्व के कारण अधिक चर्चित रहता है। यहाँ के दार्जलिंग और चुम्बी घाटी होकर तिब्बत जाने मार्ग है।

जेलेप्ला दर्रा

यह दर्रा सिक्किम राज्य में स्थित है। भूटान जाने वाला मार्ग इसी दर्रे से गुजरता है। यहाँ से भी दार्जलिंग और चुम्बी घाटी जाने का मार्ग है।

बोम्डिला दर्रा

यह अरुणाचल प्रदेश के उत्तर – पश्चिम में स्थित है। बोम्डिला से त्वांग होकर तिब्बत जाने का मार्ग है।

यांग्याप दर्रा

अरुणाचल प्रदेश के उत्तर- पूर्व में स्थित है। इसके पास से ही ब्रम्हपुत्र नदी भारत ( अरुणाचल प्रदेश ) में प्रवेश करती है। यहाँ से चीन के लिए मार्ग भी खुलता है।

दिफू दर्रा

अरुणाचल प्रदेश के पूर्व में म्यांमार सीमा पर यह दर्रा स्थित है।

पांग साड दर्रा

यह अरुणाचल प्रदेश के दक्षिण -पूर्व में म्यांमार सीमा पर स्थित है। डिब्रूगढ़ से म्यांमार जाने का मार्ग इसी दर्रा से गुजरता है।

तुजु दर्रा

यह मणिपुर राज्य के दक्षिण -पूर्व में स्थित है। इम्फाल से तामु और म्यांमार जाने के लिए इसी दर्रे का उपयोग किया जाता है।

भारत के प्रमुख दर्रे एक नज़र में

भारत के प्रमुख दर्रे स्थान
काराकोरम दर्रा लद्दाख
जोजिला दर्रा जम्मू-कश्मीर
पीरपंजाल दर्रा जम्मू-कश्मीर
बनिहाल दर्रा जम्मू-कश्मीर
शिपकी ला दर्रा हिमाचल प्रदेश
रोहतांग दर्रा हिमाचल प्रदेश
बाड़ालाचा दर्रा हिमाचल प्रदेश
माना दर्रा उत्तराखंड
नीति दर्रा उत्तराखंड
नाथूला दर्रा सिक्किम
जेलेप्ला दर्रा सिक्किम
बोम्डिला दर्रा अरुणाचल प्रदेश
यांग्याप दर्रा अरुणाचल प्रदेश
दिफू दर्रा अरुणाचल प्रदेश
पांग साड दर्राअरुणाचल प्रदेश
तुजु दर्रा मणिपुर
ताल घाट दर्रा महाराष्ट्र
भोर घाट दर्रा महाराष्ट्र
पाल घाट दर्रा केरल

important FAQ

विश्व का सबसे बड़ा दर्रा कौन सा है?

काराकोरम दर्रा

थांग ला दर्रा कहाँ है?

लद्दाख

उत्तराखंड में कौन कौन से दर्रे हैं?

माना दर्रा
नीति दर्रा

भारत और तिब्बत को कौन सा दर्रा जोड़ता है?

चांगला दर्रा

लेह को कश्मीर घाटी से कौन सा दर्रा जोड़ता है?

जोजिला दर्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exclusive content

- Advertisement -

Latest article

More article

- Advertisement -