- Advertisement -
Biographyद्रौपदी मुर्मू : भारत की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति का प्रारम्भिक एवं...

द्रौपदी मुर्मू : भारत की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति का प्रारम्भिक एवं राजनैतिक जीवन। ( draupadi murmu biography in hindi)

आज हम भारत की नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के बारे में जानेगे। इस आर्टिकल में हम द्रौपदी मुर्मू जी के जन्म से लेकर राष्ट्रपति बनने तक के सफर और उनके राजनैतिक करियर को भी नजदीक से समझने का प्रयास करेंगे।

द्रौपदी मुर्मू का प्रारम्भिक जीवन (draupadi murmu biography in hindi)

द्रौपदी मुर्मू जिन्हे हाल ही में भारत के सर्वोच्च पद राष्ट्रपति पद के लिए चुना गया है द्रौपदी मुर्मू जी उड़ीसा के एक आदिवासी परिवार से आती है इनका जन्म उड़ीसा राज्य के मयूरगंज नमक स्थान पर हुआ था इनके दादा जी और पिता जी दोनों ही अपने गाँव के मुखिया रहे है। इनका विवाह श्याम चरण मुर्मू जी के साथ हुआ जो कि बैंक मे नौकरी करते थे। इनके 2 पुत्र और 1 पुत्री थी। इनके पति और दोनों पुत्रों की अकाल म्रत्यु हो चुकी है। और उनकी पुत्री जो कि विवाहित है भुवनेश्वर मे रहती है।
इन्होंने अपने करियर की शुरुआत एक शिक्षक के रूप मे की थी और बाद मे ये राजनीति मे आई

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय एक नजर में

नाम द्रौपदी मुर्मू
पद राष्ट्रपति
जन्म 20 जून 1958
जन्म स्थान मयूरगंज , उड़ीसा , भारत
age 64 वर्ष
पिता जी विरंजी नारायण टुडू
माता जी ज्ञात नहीं
पति का नाम स्याम चरण मुर्मू
बेटी इतिश्री मुर्मू
शिक्षा कला में स्नातक
कॉलेज रामा देवी महिला कॉलेज , भुवनेश्वर उड़ीसा
राजनितिक पार्टी भारतीय जनता पार्टी

इन्हे भी देखें –president Election 2022 : जाने भारत में राष्ट्रपति चुनाव की पूरी प्रक्रिया

द्रौपदी मुर्मू जी का राजनीतिक जीवन (Draupadi Murmu’s political life in Hindi )

द्रौपदी मुर्मू जी ने अपने राजनितिक जीवन की शुरुआत नगर पंचायत के पार्षद का चुनाव जीतकर की थी सबसे पहले ये राईरंगपुर नगर पंचायत से पार्षद बनी
इसके बाद इन्होंने BJP join कर बीजेपी मे अनुसूचित जनजाति मोर्चा के उपाध्यक्ष के रूप मे कार्य किया और साथ मे यह राष्ट्रीय आदिवासी मोर्चा मे कार्यकारिणी सदस्य भी रही
सन 2000 से 2009 तक उड़ीसा के मयूरगंज से 2 बार बीजेपी की विधायक रही।

यह सन 2000 में भारतीय जनता पार्टी और बीजू जनता दल की गठबधन सरकार में वाणिज्य एवं परिवहन मंत्री का पद सौंपा गया।
इसके बाद इन्हें 2015 मे उड़ीसा की पहली महिला राज्यपाल बनाया गया। साथ मे ही यह किसी भारतीय राज्य मे पहली आदिवासी महिला राज्यपाल बनने का श्रेय भी इन्हीं को जाता है।
इसके बाद इन्होंने अब 2022 मे बीजेपी की उम्मीदवार बनकर राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन भरा था

और इसके बाद ये अब भारत के सर्वोच्च पद राष्ट्रपति के चयनित हुई है। ये भारत भारत की पहली महिला आदिवासी राष्ट्रपति होगी। इनका कार्यकाल 2022 से 2027 तक रहेगा।

FAQ – द्रौपदी मुर्मू

द्रौपदी मुर्मू कौन है

द्रौपदी मुर्मू एक भारतीय राजनेत्री है जो ओडिशा राज्य की रहने वाली है हल ही यह राष्ट्रपति पद के बीजेपी से उम्मीदवार बनाई गई थी जिसके बाद इन्हे 21 जुलाई 2022 को भारत के 15वीं राष्ट्रपति के रूप में चुन लिया गया है द्रौपदी मुर्मू जी 25 जुलाई को राष्ट्रपति की शपत लेंगी

ओडिशा राज्य की पहली महिला राज्यपाल कौन है

द्रौपदी मुर्मू

किसी भी भारतीय राज्य की पहली आदिवासी महिला राज्यपाल कौन रही

द्रौपदी मुर्मू जी को किसी भी भारतीय राज्य की पहलीआदिवासी महिला राज्यपाल बनने का श्रेय प्राप्त है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exclusive content

- Advertisement -

Latest article

More article

- Advertisement -