- Advertisement -
भूगोलविश्व की प्रमुख झीलें, झीलों के वर्गीकरण,विशेषताएँ एवं प्रकार (important lakes...

विश्व की प्रमुख झीलें, झीलों के वर्गीकरण,विशेषताएँ एवं प्रकार (important lakes of the world pdf)

सामान्य रूप में झील भूतल पर गहरा व विस्तृत गड्डा होती है। जिसमे जल भरा रहता है। दुरसरे शब्दो में कहें तो झीलें स्थलखंड के आंतरिक भागों में स्थिर जलपूर्ण गर्त है। झीलें बनती है। विकसित होती है तथा धीरे-धीरे निक्षेपित पदार्थों से भरकर दलदल बन जाता है।

Table of Contents

झीलों की विशेषताएँ

झीलें परिवर्तनशील होती है।

कुछ झीलें पर्वत, पठारों, पर हजारों किलोमीटर की ऊंचाई में तथा कुछ झीलें सागर तल से नीचे रहती हैं।

कुछ झीलें गहरी तथा कुछ झीलें उथली होती हैं।

गर्मी के मौसम में सूख जाने वाली झील को मौसमी झील खा जाता है।

झीलों का वर्गीकरण

भू-संचलन से निर्मित झील

पृथ्वी पर अन्तर्जात बलों के परिणाम स्वरूप होने वाले भू संचलन के द्वारा बनी झीलें इस श्रेणी में आती है इन्हें भी अनेक भागों में विभाजित किया गया है

अभिनति झील या भूकंपकृत् झील

भूकंप के परिणाम स्वरूप इस प्रकार की झील का निर्माण होता है उदाहरण- जेनेवा झील (स्विजरलैंड)

दरार घाटी या अंशदरारी झील

पटल विरूपण क्रिया के परिणाम स्वरूप बने दरार में जलभराव हो जाने से इस प्रकार की झील का निर्माण होता है उदाहरण मृत सागर, बैकाल झील, टांगानिका झील आदि

नवस्थल झील

पटल विरूपण क्रिया के परिणाम स्वरूप महादीपीय मंथन समुद्र तल से ऊपर उठ जाते हैं तो उनमें बने गड्ढों में जल भर जाता है जिससे नवस्थल झील का निर्माण होता है उदाहरण कैस्पियन सागर झील

हिमानी कृत झील

हिम नदियों द्वारा अपरदन एवं निक्षेपण के परिणाम स्वरूप निर्मित झीलें इस श्रेणी में आती है जैसे तार नया तर्क झील हेम सोपान या पैटरनोस्टर झील पीडमोड झील

हिमोढ़ झील

इस तरह की झीलें फिनलैंड में पाई जाती है

ज्वालामुखी क्रिया से निर्मित झील

ज्वालामुखी उद्गार तथा उनसे निकलने वाले लावा के अलग-अलग रूप में जमकर कठोर होने पर अवरोध से भिन्न भिन्न झीलों का निर्माण होता है

लावा बाँध या कुली झील

ज्वालामुखी उद्गार के समय निकलने वाला लावा नदी प्रवाह के पक्ष में जमकर या बांध बनाकर नदी के प्रवाह को बाधित कर देता है जिससे नदी का जल झील के रूप ले लेता है इस तरह से निर्मित झील को लावा बांध याकुली असली कहते हैं उदाहरण इथोपिया की हटाना झील का निर्माण ब्लू नील के मार्ग में लावा के जमने से हुआ है

क्रेटर झील

ज्वालामुखी उद्गार के बाद जब ज्वालामुखी के मुख्य का विस्तार अधिक हो जाता है तो उसे क्रेटर या विवर झील कहते है। और उस क्रेटर में जल भर जाने के परिणाम स्वरूप क्रेटर झील का निर्माण होता है उदाहरण भारत की लोनार एवं पुष्कर झील बोलीविया की टिटिकाका झील

लावा क्षेत्र की झीलें

ज्वालामुखी क्षेत्र में लावा का जमाव एक समान नहीं होता जिसके परिणाम स्वरूप अनेक स्थानों पर अलग-अलग गड्ढों का निर्माण होता है और इन गड्ढों में जल भर जाने से इस प्रकार की झीलों की उत्पत्ति होती है

उदाहरण भारत के ढक्कन क्षेत्रों में ऐसी जिले देखने को मिलती है

नदियों द्वारा निर्मित झील

नदियों की अपरदन और निक्षेपण की क्रिया के कारण इस तरह की झील का निर्माण होता है

प्रपाती झील

जब प्रपाती के नीचे भरे हुए जल के विस्तार से इस प्रकार की झील का निर्माण होता है उदाहरण वॉशिंगटन झील

गोखुर झील या विसर्प या चापाकार झील

नदी मार्गों से विसर्प के पृथक हो जाने पर इसमें जलभरा रह जाता है जिसके कारण इस झील का निर्माण होता है उदाहरण बुलर झील

डेल्टाई झील

डेल्टाई प्रदेशों में नदियां अनेक जल शाखाओं से होकर प्रवाहित होती है दो शाखाओं के मध्य डेल्टा वाले प्रदेश के बीच छोटे से स्थान पर जल एकत्रित हो जाता है जिससे इस प्रकार की झील का निर्माण होता है उदाहरण गोदावरी नदी की कोलेरू झील नील नदी की मायेह झील

पवन द्वारा निर्मित झील

प्लाया या सेलनास झील

ये अस्थाई झील होती हैं तथा पवन की अपरदन के कारण बनती है

इन्हे भी देखें – विश्व के मरुस्थल| मरुस्थलों के प्रकार, अवस्थिति एवं महत्वपूर्ण प्रश्न (Deserts Of The World In Hindi)

विश्व की प्रमुख झीलें

[ ] ग्रेट बियर झील– हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील गोट रेडियस इसी के पूर्वी तट पर स्थित है

[ ] ग्रेट स्लेव झील– हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील मैकेंजी नदी यहीं से निकलती है

[ ] अथाबास्का झील – हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील यूरेनियम सिटी स्थित उत्तरी तट पर स्थित है

[ ] विनिपेग झील – हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील नेल्सन नदी यहीं से निकलती है इस झील के दक्षिणी भाग में विनीपेग नगर स्थित है जो विश्व की गेहूं मंडी के नाम से प्रसिद्ध है

[ ] रेडियार झील– कनाडा की स्केच वान प्रांत में हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील

[ ] ग्रेट लेक्स – प्रमुख औद्योगिक और परिवहन क्षेत्र इसके अंतर्गत 5 जिले शामिल है सुपीरियर यू रन मिशिगन और उंटो यू इनमें मिशीगन को छोड़कर शेष जिले यूएसए वह कनाडा की सीमा बनाती है मिशिगन पूर्णता यूएसए में स्थित है ग्रेट लेक्स की सभी झीलें हिमानी निर्मित व मीठे पानी की है सुपीरियर मीठे पानी की विश्व की सबसे बड़ी झील है दुलूथ नगर इस के पश्चिमी तट पर बसा हुआ है सुपीरियर झील सू नहर द्वारा ह्यूमन झील से जुड़ी हुई है 312 रियो के मध्य के मध्य निग्राया प्रपात स्थित है

[ ] ग्रेट साल्ट लेक – यूएसए की ग्रेट बेसन में स्थित अत्यधिक लवणता 220% युक्त जील देश के दक्षिणी तट पर सॉल्ट लेक सिटी स्थित है

[ ] निकारागुआ झील – विवर्तनिक प्रक्रिया से निर्मित या झील कोस्टारिका व निकारागुआ की सीमा बनाती है

[ ] माराकाईबो या मराकैबो झील– वेनेजुएला में स्थित यह लैगून झील तेल उत्पाद के लिए प्रसिद्ध है टैंकर पतन

[ ] टिटिकाका झील – पेरूवा बोलीविया के तट पर स्थित विश्व की सबसे ऊंची झील क्रेटर झील का उदाहरण है

[ ] पोपो झील – बोलीविया में स्थित विवर्तनिक प्रक्रिया से निर्मित मीठे पानी की झील

[ ] वोल्टा झील – घाना में स्थित मीठे पानी की झील

[ ] चाड झील – यह झील चार्ट नाइजर नाइजीरिया व कैमरून की सीमा बनाती है

[ ] विक्टोरिया झील – दो हंसों के मध्य स्थित झील नील नदी यहीं से निकलती है युगांडा केन्या और तंजानिया की सीमा का निर्माण

[ ] टंगानिका झील – भ्रंश धरारी मीठे पानी की झील तंजानिया जाएरे बुरुंडी व जांबिया की सीमा का निर्माण यह विश्व की दूसरी सबसे गहरी तथा लंबी झील है

[ ] न्यासा/मलावी झील – जयंत दरारी झील, तंजानिया मोजांबिक व मलावी का सीमा निर्माण

[ ] एडवर्ड झील– branch दरारी झील, युगांडा व जायरे की सीमा का निर्धारण करती है

[ ] तुरकाना झील – कीनिया और इथियोपिया की सीमा का निर्माण

[ ] ताना झील– ब्लू नील नदी इसी से निकलती है

[ ] नासिर झील – मिस्र की असवान बंध के पीछे निर्मित मानव निर्मित झील

[ ] ऑनकाल झील – युगांडा में स्थित मानव निर्मित झील

[ ] ऐवरनन झील – इटली में स्थित मानव निर्मित झील

[ ] बैकाल झील- साइबेरिया क्षेत्र में स्थित विश्व की सबसे प्राचीन एवं गहरी झील bhrans दरारी झील का उदाहरण है

[ ] कैस्पियन सागर – खारे पानी की विश्व की सबसे बड़ी झील बोलगा और युवराज ललिया यही गिरती है इसके दक्षिण मध्य पूर्वी भाग को कारागार की खाड़ी के नाम से जाना जाता जो अत्यधिक लवणता का क्षेत्र है

[ ] अरल सागर – कजाकिस्तान व उज्बेकिस्तान की सीमा निर्धारण करने वाली झील जिसमे सीधा अररिया व मुदरिया नदियां गिरती है

[ ] वान झील – तुर्की में स्थित विश्व की सर्वाधिक लवणता युक्त झील

[ ] मृत सागर– इजरायल व जॉर्डन की सीमा पर स्थित विश्व की दूसरी सबसे अधिक खारे पानी की झील यह विश्व की सबसे नीचे झील है जिसकी तली सागर तल से 2500 फीट नीची है

[ ] लोपनौर झील – चीन में स्टेट जहां चीन का परमाणु परीक्षण केंद्र है

[ ] बालखस झील – कजाकिस्तान में स्थित मीठे पानी की बड़ी झील

[ ] किंघाई झील – चीन की मीठे पानी की सबसे बड़ी झील

[ ] आयर झील – यह आस्ट्रेलिया की सबसे बड़ी झील है।

[ ] टौनले झील -कम्बोडिया में स्थित मीठे पानी की सबसे बड़ी झील

important questions

विश्व की सबसे बड़ी खारे पानी की झील कौन सी है?

विश्व की सबसे खारी झील अंटार्कटिका में स्थित डॉन हुआन झील है।

विश्व की सबसे लम्बी झील कौन सी है?

बैकाल झील विश्व की सबसे लम्बी झील जो की रूस में स्थित है। यह विश्व की दूसरी सबसे बड़ी मीठे पानी की झील भी है।

विश्व की सबसे गहरी झील का नाम क्या है?

 विश्व की सबसे गहरी झील बैकाल झील है।

विश्व की सबसे मीठी झील कौन सी है?

बैकाल झील विश्व की सबसे बड़ी मीठे पानी की झील हैं।

दुनिया की सबसे छोटी झील कौन सी है?

ऍड्वर्ड झील

विश्व की सबसे निचली झील का नाम क्या है?

मृत सागर– इजरायल व जॉर्डन की सीमा पर स्थित विश्व की दूसरी सबसे अधिक खारे पानी की झील यह विश्व की सबसे नीचे झील है जिसकी तली सागर तल से 2500 फीट नीची है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exclusive content

- Advertisement -

Latest article

More article

- Advertisement -