- Advertisement -
Newssingle use plastic Ban : 1जुलाई से प्लास्टिक से बने 19 आइटम्स...

single use plastic Ban : 1जुलाई से प्लास्टिक से बने 19 आइटम्स पर लगा बैन , जाने सम्पूर्ण जानकारी।

single use plastic : भारत सरकार द्वारा 1 जुलाई भारत में use होने वाले 19 तरह के single use plastic पर बैन लगाया गया है। single use प्लास्टिक भारत में पर्यावरण को लेकर सरकार का एक बड़ा कदम है

सिंगल यूज प्लास्टिक क्या है ( what is single use plastic )

सिंगल यूज प्लास्टिक , प्लास्टिक से बने हर वह आइटम जिसका पुनः use नहीं किया जा सकता है। यह केवल एक बार ही use किये जा सकते है। न ही इन्हे रिसाइकल किया जा सकता है ,और न ही पुनः उपयोग।

ऐसे प्लास्टिक से बने प्रोडक्ट पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचाते है। इसी को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार द्वारा यह कदम उठाया गया है जिसमे single use plastic से बनी 19 चीजों को बैन कर दिया गया यह भारत की 40 % प्लास्टिक की समस्या को दूर कर देगा। क्योकि इन 19 आइटम्स का भारत के पूरे प्लास्टिक कचरे में 40% वेटेज है।

single use plastic के 19 आइटम जिन पर बैन लगाया गया है।

केंद्र सरकार ने single use plastic की जिन 19 आइटम्स पर बैन लगाया है ये निम्न प्रकार है

  1. प्लास्टिक के झंडे
  2. केन्डी स्टिक
  3. आइसक्रीम स्टिक
  4. थर्माकोल
  5. प्लास्टिक की प्लेट
  6. प्लास्टिक के कप
  7. प्लास्टिक के कांटे
  8. प्लास्टिक की चम्मच
  9. प्लास्टिक से बने इन्विटेशन कार्ड
  10. सिगरेट के पैकेट
  11. प्लास्टिक के स्ट्रॉ
  12. 100 माइक्रोन से कम के प्लास्टिक या पीवीसी बैनर
  13. मिठाई के डिब्बे को रैप या पैक करने वाली फिल्म
  14. प्लास्टिक की ट्रे
  15. प्लास्टिक की चाकू
  16. प्लास्टिक की कटलरी
  17. गुब्बारों के प्लास्टिक स्टिक
  18. प्लास्टिक ग्लास
  19. स्टिरर

ये वह 19 आइटम है जिन पर पर्यावरण मंत्रालय द्वारा इन्वार्यरमेंट प्रोटेक्सन एक्ट के तहत बैन लगाया है। इन आइटम्स को बनाने , बेचने , स्टोर करने , एक्सपोर्ट करने आदि पर 1 जुलाई से पूणतः प्रतिबंधित है। उलंघन करने वाले को इन्वार्यरमेंट प्रोटेक्सन एक्ट की धारा 15 के तहत जुर्माना या सजा या दोनों हो सकती है धारा 15 में उलंघन करने वाले को 7 साल तक की सजा और 1 लाख रुपए जुर्माने का प्रावधान है।

इन्हे भी देखें – जलवायु परिवर्तन क्या है | जलवायु परिवर्तन के कारण और परिणाम (jalvayu parivartan kya hai in hindi)

पर्यावरण के लिए कितना खतरनाक होता है प्लास्टिक

single use plastic पर्यावरण और मानव दोनों के लिए खतरनाक होता है क्योकि सिंगल यूज प्लास्टिक बे प्लास्टिक होते है। जिन्हे न तो डिकम्पोज किया किया जा सकता है। और न ही जलाया जा सकता है। क्योकि इनको जलाने से यह पर्यावरण में जहरीले रसायन छोड़ते है जो इंसान और जानवरो दोनों के लिए खतरनाक होते है।

भारत की केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार भारत में हर दिन लगभग हर दिन 26 हजार टन प्लास्टिक कचरा निकलता है। जिसमे से आधे कचरे को ही इखट्टा किया जाता है बांकी कचरा नदियों ,नालियों , नालों में पड़ा रहता है और यह कचरा जो इखट्टा किया जाता है यह साल में 2.4 लाख टन single use plastic कचरा पैदा करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exclusive content

- Advertisement -

Latest article

More article

- Advertisement -